Advertisements

कॉपी बनाने का बिज़नेस कैसे शुरू करें (100% Earning) | Notebook Manufacturing Business in Hindi

Advertisements

नोटबुक बनाने का व्यवसाय (बिजनेस), तरीका, विधि, मशीनरी, कीमत (Notebook Making Business, Plan, Cost, Profit, Machine, Raw Material, Process & Price in Hindi)

Notebook Bnane ka Business Kaise shuru kare :- 31.5 करोड़ की कुल छात्र आबादी और गिनती के साथ, भारत नोटबुक और पाठ्यपुस्तकों का एक बड़ा बाजार है। लगातार बढ़ती छात्र आबादी और नए कॉलेजों और स्कूलों के निरंतर विकास के कारण भारतीय स्टेशनरी की मांग वर्तमान में अपने चरम पर है और ये नोटबुक की मांग कभी भी कम होने वाली नहीं है, इसके साथ नोटबुक बनाने का बिज़नेस आपका पुरे साल चल सकता है। हालांकि इस व्यवसाय में कम्पटीशन वास्तव में बहुत अधिक है, इस उद्योग का विखंडन नए लोगों को प्रवेश करने की अनुमति देता है।

नोटबुक यानी की कॉपी ये एक ऐसी वस्तु है जिसके बिना पढ़ाई करना संभव ही नहीं है और इसकी लगातार बढ़ती मांग के साथ इसके दाम भी लगातार बढ़ते जा रहे है। अगर आप कम पैसे से कोई बिज़नेस शुरू करना चाहते है तो शायद आपके लिए नोटबुक बनाने का बिज़नेस सही रहे। तो चलिए बिना देरी किये शुरू करते है और आपको बताते है की कैसे आप कैसे इस बिज़नेस को शुरू कर सकते है और लाभ कमा सकते है।

विश्व स्तर पर स्टेशनरी उत्पादों के बाजार को चलाने में महत्वपूर्ण कारक हैं :-

अब हम आपको उन कारणों के बारे में बताने जा रहे है जिनके वजह से नोटबुक और अन्य स्टेशनरी प्रोडक्ट्स की डिमांड और उनका बिकना दिन-ब-दिन बढ़ता जा रहा है :-

  • पढ़ने लिखने की योग्यता का स्तर बढ़ाना
  • अधिक जनसंख्या तक शिक्षा की पहुंच बढ़ाना
  • बेहतर जन्म दर
  • स्कूलों और कार्यालयों की बढ़ती संख्या
  • जीवन स्तर में सुधार
  • सस्ते उत्पादों पर ध्यान देना
  • शिक्षा पर बढ़ा खर्च
  • सभी के लिए शिक्षा और शिक्षा पर राष्ट्रीय नीति (सर्व शिक्षा अभियान) जैसी सरकारी पहल
  • ग्रामीण क्षेत्रों का शहरीकरण

पुस्तकों के प्रकार (Types of Books)

समय और बढ़ती मांग के साथ अब बाजार में कई तरह की नोटबुक्स आ चुकी है जिनका इस्तेमाल अलग-अलग कार्य करने के लिए किया जाता है। जैसे की :-

  • नोटबुक
  • रिकॉर्ड बुक
  • नोट पैड
  • एक्सरसाइज मैनुअल्स
  • ग्राफ बुक
  • पेंटिंग पुस्तक
  • लैब बुक
  • स्क्रैपबुक

नोटबुक बनाने के लिए समय (Notebook making process time)

अगर आप नोटबुक बनाने का बिज़नेस करने जा रहे है तो आपके मन में एक सवाल जरूर आ रहा होगा की आखिर एक नोटबुक बनाने में कितना समय लगता है – तो आपको बतादे की नोटबुक यानी की कॉपी बनाने में 15 से 20 मिनट्स में 7 से 8 कोपिया आराम से बन जाती है।

नोटबुक बनाने के लिए जरूरी रॉ मटेरियल (Notebook making raw materials)

हर चीज़ का बिज़नेस शुरू करने से पहले आपको उस बिज़नेस के रॉ मैटेरियल्स की जरूरत अवश्य पड़ती है, इसी तरह नोटबुक का बिज़नेस शुरू करने से पहले आपको इसके रॉ मैटेरियल्स के बारे में जानकारी होना जरूरी है। वे जरूरी रॉ मैटेरियल्स है :-

  • वाइट शीट पेपर :- इस बिज़नस में सबसे मुख्य कच्चा माल जीएसएम पेपर की व्हाइट शीट है इसी से नोटबुक तैयार होता है। पेपर की क़ीमत आपको 62 रू प्रति किलोग्राम देखने को मिल जाएगी।
  • कवर शीट और कवर पेज :- इससे कॉपी का कवर बनाया जाता है जो इसको मजबूती प्रदान करता हैं एवं इसको आकर्षक बनाता है। आपको कवर के लिए इस्तेमाल होने वाला गत्ता 1 रूपया प्रति पीस देखने को मिल जायेगा।

नोटबुक बनाने के व्यापार में लाभ (Notebook making business profit)

एक किलो कागज में लगभग 6 से 7 नोटबुक बनाई जा सकती हैं। अगर आप इसे रिटेल में बेचते हैं तो 14 से 15 रुपये प्रति पीस बिकता है।

एक नोटबुक बनाने की कुल लागत 11 रुपये है। होल सेल में ऐसी नोटबुक की कीमत 12 से 13 रुपये है। इस तरह थोक में प्रत्येक नोटबुक में 2 रुपये का लाभ कमाया जा सकता है।

इसलिए लाभ पैमाने पर निर्भर करता है। थोक बाजार में बेचने से प्रति नोटबुक औसत लाभ 2 रुपये है। यदि आप प्रति वर्ष 3 लाख नोटबुक बेचते हैं तो आपको सालाना 6 लाख का नेट लाभ मिलता है। क्या आप जानते है की आप चिप्स बनाने के बिजनेस से भी अच्छा खासा पैसा कमा सकते है।

नोटबुक बनाने के लिए मशीन (Notebook making machines)

अब हम आपको बतादे की नोटबुक बनाने के लिए किन मशीनो की आवश्यकता पड़ेगी और वे किस तरह काम में आएँगी :-

  • पिन अप मशीन :- यह मशीन पेजेज और कवर में पिन स्टेपल करने के काम आती है।
  • डिस्क रूलिंग मशीन :- इस मशीन की मदद से पेजेज पर लाइन्स खींची जाती है।
  • एज स्क्वायर मशीन :- यह मशीन कापी को फिनिशिंग टच (कवर से बाहर निकले अतिरिक्त पन्ने आदि की छंटाई) देने के काम में आती है।
  • कटिंग मशीन

नोटबुक बनाने के लिए मशीन की कीमत (Price of Notebook making Machine)

नोटबुक बनाने के लिए मशीन की कीमत लगभग 5 लाख से 6 लाख तक के बीच में होती है। इन मशीन को आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों मार्किट से खरीद सकते है। अगर आप इन मशीन को ऑनलाइन खरीदना चाहते है तो निचे दिए गए लिंक पर से खरीद सकते है।

  • https://dir.indiamart.com/impcat/notebook-making-machines.html?price

नोटबुक बनाने की प्रक्रिया (Notebook making process)

नोटबुक बनाने की प्रक्रिया बहुत ही आसान है आप अगर एक बार मशीन का काम समँझ जायेंगे तो आप आसानी से नोटबुक बना पाएंगे।

  • सबसे पहले आपको जितनी बड़ी नोटबुक बनानी है उसी हिसाब से कवर पेज को मोड़ना होगा।
  • इस काम के बाद अब आपको पेजेज लेने होंगे और जितने भी पेजेज की नोटबुक बनाना चाहते है उन्हें कवर पेज की साथ रखे और उन्हें पेपर पिन उप मशीन की सहायता से उन्हें पिन उप कर दे।
  • इसके बाद इस कापी को एज स्क्वायर मशीन की सहायता से फिनिशिंग लुक दिया जाता है यानी की कवर से बाहर निकले अतिरिक्त पन्ने की छंटाई करना।
  • अब आखिर में नोटबुक की कट्टिंग की बारी आती है। नोटबुक की पिनिंग साइड को छोड़कर बाकी तीनो तरफ की कटिंग की जाती है ताकि कॉपी की साइज़ सही रहे और दिखने में आकर्षक दिखे। अगर जरुरत हो तो बीच में से काटकर दो नोटबुक भी बनाई जा सकती है।
  • इसके बाद नोटबुक मार्किट में बिकने के लिए तैयार हो जाता है।

नोटबुक की पैकिंग (Notebook Packaging)

पूरी तरह से नोटबुक तैयार हो जाने के बाद उसे आपको बेचने के लिए सबसे पहले उसकी पैकेजिंग करनी होंगी। इसकी पैकेजिंग आप दो तरीको से कर सकते है एक होलसेल रेट पर बिकने हेतु जिसमे बड़े-बड़े बंडलों में नोटबुक भरकर विभिन्न जगहों पर भेज दी जाती है तथा दूसरा यदि रिटेल में अपना ब्रांड सीधे सीधे उतारना चाहते हैं तो इसके लिए प्रति पैकेट 6 कॉपी का पैक बनाएं और विभिन्न स्टेशनरी दुकानों पर पहुंचाएं।

नोटबुक बनाने के व्यापार के लिए कुल खर्च (Notebook Making business cost)

नोटबुक बनाने के व्यापार के लिए कुल खर्चा लगभग 10 लाख का हो सकता है। इस बताये गए ख़र्चे में आपकी मशीने, बिजली, वायरिंग और पानी का खर्चा भी आसानी से हो जायेगा।

उम्मीद है आपको हमारे इस आर्टिकल में Notebook Bnane ka Business Kaise shuru kare | Notebook Manufacturing Business in Hindi के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी। अगर फिर भी आप इस बारे में कुछ पूछना चाहते हैं, तो बेझिझक हमें कमेंट सेक्शन में मैसेज करें और हम आपका जवाब जरूर देंगे।

Read Also :

Leave a Comment

Bhool Bhulaiyaa 2 Box Office Collection Day 2 Petrol Diesel Prices Cut: छह महीने बाद सरकार ने फिर दी राहत Memphis Grizzlies finish Minnesota Timberwolves in 6 for first series win since ’15 KGF Chapter 2 box office collection Day 16: Yash’s film crosses Rs 950 crore milestone Benedict Cumberbatch to house Ukrainian family who fled after Russian attack